main news

चीन की भारत में सेंध, गुड़गांव को बेस बनाने की तैयारी

12_07_2014-12indochinaनई दिल्ली – एक अरसे से भारत पर नजर गड़ाए बैठा पड़ोसी देश चीन राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में जासूसी केंद्र स्थापित करने की फिराक में है। चीन के लिए भारत की जासूसी कर रहा एक तिब्बती नागरिक इसके लिए गुड़गांव में काफी मात्रा में जमीन खरीद चुका है। इस चौंकाने वाले तथ्य का खुलासा केंद्र सरकार और आइबी ने दिल्ली हाई कोर्ट के समक्ष पेश खुफिया रिपोर्ट में किया है। केंद्र ने तिब्बती नागरिक करमा ढूंडूप का पासपोर्ट रद कर दिया था, जिसे उसने हाई कोर्ट में याचिका दायर कर चुनौती दी है। इस मामले में सुनवाई के दौरान यह रिपोर्ट दायर की गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, करमा ढूंडूप को चीन के लिए भारत की जासूसी करने संबंधी कुछ गतिविधियों में लिप्त पाया गया है। उसका एक जुड़वां भाई है जिसका नाम करमा लुंडूप है। दोनों भाइयों ने गुड़गांव में काफी मात्रा में कुछ रिफ्यूजी तिब्बती लोगों के नाम पर जमीन खरीदी है। इन नागरिकों के दिल्ली के पते दिए हैं, जो फर्जी पाए गए हैं। इस जमीन पर चीन के लिए जासूसी केंद्र बनाने की तैयारी की जा रही है।

केंद्र सरकार ने बताया कि करमा ढूंडूप के संबंध स्विटजरलैंड के एक ऐसे नागरिक से हैं जो जासूसी कार्यो में लिप्त है और उसे भारत सरकार ने ब्लैकलिस्ट कर रखा है। करमा ढूंडूप के माता-पिता 1959 में भारत आए थे। वे तिब्बती नागरिक हैं। मगर करमा ने अपने माता-पिता को भारतीय बताते हुए दार्जिलिंग में नगर निगम से जन्म प्रमाण पत्र हासिल कर लिया और पासपोर्ट बनवा लिया।

आइबी की रिपोर्ट से इन तथ्यों का खुलासा हुआ तो विदेश मंत्रालय के आदेश पर करमा ढूंडूप का पासपोर्ट रद कर दिया गया। मंत्रालय ने कोलकाता के रीजनल पासपोर्ट अधिकारी को ढूंडूप के खिलाफ पासपोर्ट एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करने के आदेश भी जारी किए हैं। वहीं, करमा ढूंडू ने आइबी की रिपोर्ट पर आपत्ति जाहिर करते हुए कहा कि वह भारतीय नागरिक है और उसका कोई जुड़वां भाई नहीं है। इसके अतिरिक्त वह गुड़गांव में किसी भी जमीन की खरीद में शामिल नहीं है।

NCR Khabar News Desk

एनसीआर खबर.कॉम दिल्ली एनसीआर का प्रतिष्ठित और नं.1 हिंदी समाचार वेब साइट है। एनसीआर खबर.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय,सुझाव और ख़बरें हमें mynews@ncrkhabar.com पर भेज सकते हैं या 09654531723 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button